श्रम एवं नियोजन मंत्री सत्यानन्द भोगता पहुंचे अपने पैतृक गांव,अपने खेत में की धान की रोपाई

श्रम एवं नियोजन मंत्री सत्यानन्द भोगता पहुंचे अपने पैतृक गांव,अपने खेत में की धान की रोपाई

चतरा। राज्य के श्रम एवं नियोजन मंत्री सत्यानन्द भोगता आज अपने पैतृक गांव पहुँचे और खेती किसानी का जायजा लिया। उसके बाद मंत्री ने खुद हल चलाया और धान रोपाई भी किया।
मंत्री ने बताया कि हम गरीब किसान के बेटा हैं, गरीबी को जानते हैं। खेती करना हमारा धर्म है। पूर्वजों ने विरासत में खेत दिया है तो खेती करना जरूरी है। किसान खेती करेगा तो ही सबको खाने के लिए अनाज मिलेगा। हम हरेक साल अपने खेत में फसल लगाते हैं। अपनी खेती करने में कोई शर्म की बात नही है।
हम हमेशा अपने जनता की सेवा से व्यस्तम समय में से समय निकाल कर अपने खेतों पर काम करने पहुंच जाते हैं।
आगे मंत्री ने बताया कि हमारी सरकार किसानों के हित में कई योजनाएं शुरू की है ताकि किसानों को लाभ पहुंचाया जा सके। हमारे किसान हमारे लिए भगवान की तरह हैं। उनके द्वारा उपजाए अन्न से ही हमसब का पेट भरता है। सरकार बहुत सारे किसानों के लिए कल्याणकारी योजनाएं चला रही है।
इस मौके पर माननीय मंत्री के अलावे कई ग्रामीण भी उपस्थित थे।

चतरा झारखण्ड