राफेल की लैंडिंग के लिए अंबाला एयरबेस त्यार, तीन किलोमीटर तक किया गया सील

राफेल की लैंडिंग के लिए अंबाला एयरबेस त्यार, तीन किलोमीटर तक किया गया सील

अंबाला। बुधवार को जब राफेल अंबाला के एयरबेस पर लैंड करेगा तो यह ऐतिहासिक क्षण होंगे। इसके लिए वायुसेना और सरकार ने खास बंदोबस्त भी किए हैं। तीन किलोमीटर के क्षेत्र में धारा-144 लगा दी गई है। इस क्षेत्र में लोगों को घरों की छत पर आने की भी मनाही की गई है। इसके अलावा कोई भी अंबाला एयर बेस व राफेल की फोटोग्राफ नहीं कर पाएगा। 
सुरक्षा कारणों से सरकार ने आदेश जारी कर दिए हैं। राफेल की लैंडिंग को लेकर मीडिया के लिए भी कड़ी हिदायत जारी की गई है। मीडिया कर्मी बलदेव नगर, पंजोखरा साहिब, धूलकोट जैसे इलाकों में खड़े होकर भी कवरेज नहीं कर पाएंगे। राफेल के स्वागत में सेना के कई आला अफसर व रक्षा मंत्रालय से जुड़े बड़े ओहदेदार भी इन पलों के साक्षी बनेंगे। 
प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि इस वक्त हर हिंदुस्तानी का जोश बहुत हाई है। यह अंबाला छावनी के लिए देश के लिए बहुत बड़े गर्व की बात है कि एयरफोर्स का सिकंदर राफेल अंबाला छावनी में स्थापित किया जा रहा है। विज ने कहा कि सारा शहर सारे लोग अपनी पलकें बिछाए बैठे हुए हैं। विज ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से राफेल के आने से पहले एयरपोर्ट के 3 किलोमीटर के दायरे को पूरी तरह से सील करने के आदेश दे दिए गए हैं ताकि राफेल के अंबाला छावनी पहुंचने पर किसी प्रकार का खलल ना पड़े।

राष्ट्रीय