मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर पंकज यादव ने यूरिया खाद के कालाबाजारी पर रोक लगाने की मांग की।

मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर पंकज यादव ने यूरिया खाद के कालाबाजारी पर रोक लगाने की मांग की।

रांची। पंकज यादव ने मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर यूरिया खाद के कालाबाजारी पर रोक लगाने के मांग की है .उन्होंने पत्र में लिखा है कि झारखण्ड के प्रत्येक जिले में यूरिया खाद की कालाबाजारी हो रही है .किसान हर साल की भांति इस साल भी ऊँची कीमतों पर यूरिया खाद खरीदने को मजबूर हैं .कुछ जिलों में सम्बंधित मंत्री तथा डीसी की सक्रियता की वजह से कुछ दुकानदारों पर शख्ती जरूर बरती गयी .पर वो खानापूर्ति का ही हिस्सा रहा है .किसान आज भी ऊंची कीमतों पर यूरिया खाद खरीदने को मजबूर हैं .जिला कृषि पदाधिकारी खाना पूर्ति के लिए कुछ जगहों पर यूरिया व्यपारियों पर शख्ती के बाबजूद वो कालाबाजारी से बाज नहीं आ रहे हैं .लॉक डाउन में मजदूरी कर खाली हाथ लौटे किसान को अपने ही प्रखंड और जिला मुख्यालय स्थित यूरिया खाद व्यपारी किसानो की लूट लेने को आतुर हैं .जहाँ सरकार वापस आये प्रवासी मजदूरों को हर संभव मदद करने की कोशिस कर रही है .इनके लिए विभिन्न योजनाओ की शुरुआत की गयी है .ताकि वापस आये मजदूरों को लोकल स्तर पर रोजगार मिल सके .वही आदतन किसानो को लूटने वाले ये यूरिया ब्यपारी उन्हें दुगने से अधिक कीमत पर यूरिया बेच रहे हैं.पंकज यादव ने मुख्यमंत्री से ये निवेदन किया है कि खाद की कालाबाजारी करने वाले लोगो से सरकार शख्ती से पेश आये ताकि मजूर किसान और मज़बूरी में खेती कर रहा प्रवासी मजदूरों का शोषण बंद हो सके .

झारखण्ड