झारखण्ड: मनरेगा में 50 करोड़ का घोटला पंकज यादव ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

झारखण्ड: मनरेगा में 50 करोड़ का घोटला पंकज यादव ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

रांची: मनरेगा में पिछले तीन सालो में पचास करोड़ की राशि गबन होने की बात सामने आयी है .झारखण्ड के प्रसिध्य सोशल एक्टिविस्ट पंकज यादव ने इस बात का खुलासा करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखा है .पंकज यादव ने 2017 -21 तक के मनरेगा के सोशल ऑडिट का हवाला देते हुए बड़े भ्रस्टाचार की बात कही है . पर इन तीन सालो में सरकार अब तक सिर्फ एक करोड़ 64 लाख की ही राशि रिकवर कर पायी है . अन्य राज्यों में मनरेगा में सलिप्त अधिकारियों,जनप्रतिनिधियों से तुरंत रिकवरी होती है .2017-18 ,2018-19 तथा 2020-21 में क्रमशः 1678,1810और 1084 पंचायत का ही सोशल ऑडिट हो पाया है .अगर अधिक पंचायतो की सोशल ऑडिट होती तो अधिक राशि की बात सामने आती .पंकज यादव ने अपने पत्र में ये भी उल्लेख किया है कि मजदूरों से काम करवा कर उनका बकाया करोड़ो में सरकार पर उधार है वही अधिकारीयों और पंचायत प्रतिनिधि मनरेगा की राशि डकारने में जुटे हैं .हेमंत सरकार कठोरता दिखाते हुए स्पेशल टीम बना कर घपले की राशि वसूल करे .अगर जवाबदेह अधिकारियों से वसूली नहीं हुई तो इनका मनोबल ऐसे ही बढ़ा रहेगा और मजदूरों का हक़ मारा जाता रहेगा .

झारखण्ड