Jharkhand: 31 मई तक झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन? CM हेमंत ले सकते हैं बड़ा फैसला

Jharkhand: 31 मई तक झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन? CM हेमंत ले सकते हैं बड़ा फैसला

रांची। 31 मई तक झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है। कोरोना वायरस संक्रमण पर काबू पाने के लिए मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन कभी भी इस बारे में बड़ा एलान कर सकते हैं। कोरोना संक्रमण के गांवों में फैलाव रोकने को लेकर राज्‍य में और सख्‍ती बढ़ाई जा सकती है। हालांकि बीते कुछ दिनों में प्रदेश में कोरोना संक्रमण से बेकाबू हो रहे हालात थोड़े सुधरे हैं, लेकिन दूसरे राज्‍यों से झारखंड आ रहे बड़ी संख्‍या में प्रवासियों के कारण एक बार फिर से संक्रमण तेजी से फैलने का खतरा बढ़ गया है।

31 मई तक लगाई गई हैं पाबंदियां

बीते दिन राज्‍य सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश पर 31 मई तक पाबंदियां लगाते हुए प्रवासियों के लिए नई गाइडलाइन जारी की थी। इसके तहत दूसरे राज्‍यों से आने वाले प्रवासियों को सात दिनों तक सरकारी क्‍वारंटाइन में रहना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके बाद कोरोना जांच में निगेटिव पाए जाने पर ही उन्‍हें घर जाने की छूट होगी। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर प्रवासियों को सरकार के नियमों के तहत इलाज कराना होगा।

कड़े फैसले लेने को तैयार है हेमंत सरकार

सरकारी सूत्रों के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर आने से पहले राज्‍य में युद्धस्‍तर पर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। कई राज्यों में संपूर्ण लाकडाउन लगाया गया है, ऐसे में राज्‍य सरकार भी किसी भी परिस्थिति से निबटने और कड़े फैसले लेने को तैयार है। इससे पहले राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने के बारे में सीएम हेमंत सोरेन से बात की थी। बहरहाल, कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन कभी भी लगाया जा सकता है।

झारखण्ड